Monday

आज मेरे ब्लॉग (टेकटच) को एक साल पूरा हो गया, बधाई दीजिए

१९ अप्रेल २००९ को जब पहली बार खेल खेल मे एक “तकनीक” से रिलेटेड “टूटी-फूटी” पोस्ट लिखी तब पता नहीं था कि यहाँ तक पहुँच जायेंगे , ये सब आपके प्यार और सहयोग से हो गया | अभी भी मैं “हिंदी ब्लोगिंग” मे अपरिपक्व लिखाडी ही हूँ | जो थोडा बहुत इधर उधर से सिखता हूँ, उसे यहाँ साझा कर देता हूँ | फिर भी आप लोगों का भरपूर सहयोग एवं प्यार मिला | यही तो “हिंदी ब्लोगिंग” की खासियत है ….जो यहाँ एक बार आ गया फिर यहाँ रम जाता है | वही कुछ मेरे साथ हो रहा है | वैसे तो मैं “लिख” तो सित० २००८ से रहा हूँ , तब “ज़रा मेरी सुनिए”, “ज्ञानांजली” और “फन की बस्ती” मे लिखता था |

techtouch

फिर विचार आया अपने पसंदीदा “टोपिक” पर क्यूँ ना लिखा जाये? बस “टेकटच” का जन्म हुआ | पहले तो मैं यहाँ नियमित नहीं रहा पाया, उसका भी कारण है |(परीक्षायों की तैयारियों के समय) फिर 2010 से थोडा ज्यादा सक्रिय होने का प्रयास किया है |

चलो कोई बात नहीं अभी वक्त है एक जबरदस्त “सेलिब्रेशन” का | जबर्दस्त मतलब ….हाँ हाँ एक साल तो पूरा हुआ ही है साथ “टेकटच” का सैकडा भी पूरा होने जा रहा है | तो हुआ न डबल  “सेलिब्रेशन” ?

आप लोगों की सराहना तथा प्यार तो बखूबी मिला पर शिकायतें कम मिली ऐसा क्यूँ ? शिकायतों की ज्यादा जरूरत होती है क्यूंकि उससे अपने आप को और अधिक निखारा जा सके |उम्मीद है आप लोग इस ओर भी ध्यान देंगे |

हाँ भाषा पक्ष मे मात खा जाता हूँ , “हिंदी” नहीं रह पाती, शायद “विषय” हो ऐसा फिर कोसिस ज्यादा से ज्यादा “हिंदी” रखने की कोसिस करूँगा | और शैली हम जैसों के पास कहाँ रखी…आप लोगों से निरंतर सीख रहा हूँ |

भविष्य मे भी “टेकटच” को आप लोगों के इतने तथा इससे ज्यादा प्यार तथा सहयोग की जरूरत है |

और अब कुछ आंकड़े हो जाएँ

alexa

और

value

धन्यवाद

राहुल राठौड

21 comments:

Post a Comment