Wednesday

संगीत, जीवन और आधुनिक तकनीक ( Music in a Modern way)

शुरुआत करते हैं "लांगफेलो" के इस कथन से,
"संगीत मानव की विश्वव्यापी भाषा है "। या यूँ कह ले एक संगीत ही है जो तमाम भौगोलिक सीमायों को तोड़ता हैं ।

संगीत,  जिंदगी  है , अगर बात भारतीय सन्दर्भ में हो तो इसकी प्रासंगिका और भी बढ़ जाती है । इससे तो हम सभी बचपन से ही अवगत हैं , सभी ने संगीत को कई रूपों में देखा और सुना होगा ।

परिवर्तन तो सास्वत है, तो संगीत इससे अछूता कैसे रहता , बहुत से परिवर्तन आये । सच कहूँ तो मैं कोई संगीत विशेषज्ञ तो हूँ नहीं सो किस संगीत को अच्छा कहूँ या कर्कश ? इसलिए पहले से ही माफ़ी मांगे लेता हूँ ।

मेरे लिए तो संगीत वहीँ सबसे अच्छा है जो मुझे शांति दे, मुझे आत्म-साक्षात्कार कराये, नयी उर्जा भरें, सुबह सुबह एक नए और बेहतर दिन के लिए प्रेरित करे , बस ।

मैंने संगीत सुनना शुरू किया , रेडियो से , हाँ जी वहीँ "विविध भारती" , तब गाँव में वहीँ एक सबसे सक्षम साधन था । समय बदला टेप-रिकार्डर, वाकमेन से मोबाइल आ गया ।  और फिर हमारा परिचय "इस दुनिया (Internet)"  से हुआ । और धीरे धीरे बहुत कुछ बदल गया ।

तो आज मैं इसी पर चर्चा करना चाहूँगा , "इस दुनिया" में संगीत से कैसे जुड़े रहे , सच कहें तो अब तो बहुत आसान है । पहले एक एक ट्रैक के लिए भटकना पड़ता था , आज लाखों, करोड़ों बस आपकी उँगलियों और माउस क्लिक से दूर हैं ।

दरअसल मैं यहाँ "वैध" तरीके से संगीत को कैसे सुने, इस पर चर्चा करूँगा , वैसे तो आप जानते ही हैं , उस विषय पर एक नयी पोस्ट की जरुरत पड़ेगी ।

अगर वैश्विक सन्दर्भ में देखें तो कई विकल्प है जैसे Spotify , Grooveshark , Pandora, Rdio, Last.fm, Deezer और YouTube को कैसे भूल सकते हैं ।

हम यहाँ बात करेंगे भारतीय सन्दर्भ में ।

सबसे पहले मैं आपका परिचय एक नयी सर्विस से करना चाहूँगा, वो है  HPConnectedMusic.

1. HPConnectedMusic:


HP ने Universal Music और  Hungama.com के साथ मिलकर "वैध" तरीके से "संगीत" सुनने का एक विशाल विकल्प दिया है । अगर आपके पास HP की Notebook (Windows 8 के साथ ) है तो पूरे एक साल लाखों गानों को कितनी ही बार, बेहतर गुणवत्ता में , वैध तरीके से सुन सकते हो ।



यहाँ दो तीन बाते खास हैं , अगर आप संगीत में गुणवत्ता के साथ कोई समझौता नहीं चाहते तो ये एक बेहतर विकल्प है, क्योंकि अक्सर जो Pirated Music होता है उसके Bitsrates कम होते हैं ।

यहाँ आपको Bollywood के अलावा भी बहुत कुछ है, जैसे भक्ति, क्षेत्रीय, और वैश्विक भी । यहाँ आप Songs को Offline भी रख सकते हो, यानि डाउनलोड कर सकते हो ।

एक और अहम बात HP ने अपने Notebooks में Dr Dre's Beats technologoy को जोड़ा था वो आपके संगीत सुनाने के अनुभव को ही बदल कर रख देगा , एक बार इसे try करके देखिये ।

 साथ ही यहाँ आप कई Music Concerts के free tickets भी जीत सकते हो ।



2. Gaana.com
 



Gaana.com को आप Spotify का  Indian अवतार कह सकते हैं । ये Indiatimes की सर्विस है । इसका सबसे बड़ा प्लस पॉइंट ये की यहाँ आपको हिंदी, इंग्लिश के साथ साथ 21 क्षेत्रीय भाषायों के विकल्प मिलते हैं । साथ ही इसके  मोबाइल एप्स भी हैं, जो Android, iOS, BlackBerry, Java पर उपलब्ध हैं ।



3. Saavn





जब बात ऑनलाइन म्यूजिक ही हो रही है और Saavn का जिक्र ना हो ऐसा नहीं हो सकता । इसके भी मोबाइल एप्स हैं तो आप कहीं भी कभी भी अपने प्रिय संगीत के साथ रह सकते हैं , इसका Facebook एवं अन्य सोशल नेटवर्किंग  साइट्स के साथ समायोजन बहुत ही बढ़िया हैं ।

यहाँ भी विभिन्न विकल्प मिलेंगे जैसे ग़ज़ल, भक्ति, क्षेत्रीय आदि आदि ।
इसके Pro वर्जन के साथ आप Songs को Offline भी सुन सकते हो, यानि डाउनलोड कर सकते हो , उसके लिए आपको लगभग 200-250 रु०  महीने खर्च  करने पड़ेंगे ।



4. Dhingana



 जब बात चली  है तो Dhingana को छोड़ सकते हैं , ये भी ऑनलाइन म्यूजिक स्ट्रीमिंग क्षेत्र में अव्वल बना हुआ है , वो अपने User interface के दम पर , साथ लगभग सभी मोबाइल प्लेटफोर्म पर भी मौजूद है ।  Dhingana के जबरदस्त फीचर ये है की ये आपके इन्टरनेट कनेक्सन की स्पीड को देखकर गाने के bitrates में बदलाव कर देता देता है, जिससे स्लो कनेक्शन पर भी बफरिंग जैसी दिक्कत से बचा जा सके ।

यहाँ सभी सभी एप्स, विकल्प की चर्चा नहीं हो पायी है और न ही सारे फीचर्स की । सभी के अपने अपने Plus और Minus पॉइंट्स हैं । ये  चर्चा आपके कमेंट्स के बिना पूरी नहीं हो सकती , अपना अनुभव शेयर जरूर कीजिये ।


#HPConnectedmusic , #indianMusic , #dhingana, #gana, #saavn, #

8 comments:

Post a Comment